6 सप्ताह की तैयारी योजना


आज से UPTET के लगभग ६ सप्ताह रह गए है और अब हमे अपनी तयारी को और अच्छा करना है। हम आपको समय समय पे विभिन्य तरीके से आपकी मदद करने को तैयार है बहुत से छात्रों ने हमारी मोबाइल व्हाटसअप और मेल सर्विसेज के लिए रेगिस्ट्रशन  कर रखा है (अगर आप नई नई किया है अभी करे )जो की बिलकुल फ्री है आज हम आपको एक बार से फिर  से  UPTET  के बारे में बताने जा रहे-


EyesUnit Flash Books Get it Free
UPTET Success Tips
Install Flipkart App and get many more offers


पहले हम परीक्षा का पैटर्न और अंक प्रणाली देखते है (कक्षा 1 से 5 तक के लिए शिक्षक ) -

  भाग      विषयवस्तु (सभी अनिवार्य)   
  प्रश्नों की संख्या    
   कुल अंक   
(i)
 बाल विकास एवं शिक्षाशास्त्र
30 MCQ
30 Marks
(ii)
 भाषा-1
30 MCQ
30 Marks
(iii)
 भाषा-2
30 MCQ
30 Marks
(iv)
 गणित
30 MCQ
30 Marks
(v)
 पर्यावरणीय शिक्षा
30 MCQ
30 Marks


यू0पी0 टी0ई0टी0 के 7 महत्वपूर्ण बिन्दु

एक शिक्षक के रूप में एक व्यक्ति के लिए टी.ई.टी. को उत्तीर्ण करना आवश्यक है। हम यहाँ पर आपको यू.पी. टी.ई.टी. के कुछ महत्वपूर्ण बिन्दु बता रहे है जो आपको परीक्षा अच्छे अंको से  उत्तीर्ण करने में सहायक होंगे।

1. परीक्षा की अवधि ढाई घण्टा अर्थात कुल 150 मिनट होगी। परीक्षा के समस्त प्रश्न बहुविकल्पीय होंगे, प्रत्येक प्रश्न के चार विकल्प होगे। नकरात्मक मूल्यांकन नहीं होगा

2. कक्षा 1 से 5 हेतु उत्तर प्रदेश शिक्षक पात्रता परीक्षा में आवेदन के लिए न्यूनतम अर्हता:-
    दो वर्षीय बी.टी.सी, दो वर्षीय डिप्लोमा (डी.एड.) , दो वर्षीय बी.टी.सी उर्दू , (बी.एल.एड.) के अन्तिम वर्ष          शामिल होने वाले अथवा उत्तीर्ण।

3.कक्षा 6 से 8 हेतु उत्तर प्रदेश शिक्षक पात्रता परीक्षा (U.P. TET) में आवेदन हेतु न्यूनतम अर्हता:-
  दो वर्षीय बी.टी.सी, (बी.एड.) या एल.टी., (बी.एल.एड.) के अंतिम वर्ष में शामिल होने वाले अथवा उत्तीर्ण।

4. यूपीटीईटी के दो पेपर होंगे
  • प्रथम प्रश्न पत्र (Paper-Ist) ऐसे व्यक्ति के लिए जो कक्षा 1 से 5 तक के लिए शिक्षक बनना चाहते है. (प्राथमिक स्तर)
  • द्वितीय प्रश्न पत्र (Paper-IInd)  ऐसे व्यक्ति के लिए होगा जो कक्षा 6 से 8 तक के लिए शिक्षक बनना चाहते हैं (उच्च प्राथमिक स्तर)
  • ऐसा व्यक्ति जो दोनों स्तर (कक्षा 1 से 5 और कक्षा 6 से 8 तक) के लिए शिक्षक बनना चाहते है, को दोनो पेपरों (Paper-I and Paper-II) में शामिल होना होगा।
5. प्रश्न पत्र का माध्यम अंग्रेजी अथवा हिन्दी होगा।
6. UP-TET में शामिल होने वाले अभ्यर्थियों के अंक का विवऱण वेबसाईट पर जारी किया जायेगा। पूर्णांक 150 में से 90 अंक अर्थात 60 प्रतिशत और अधिक अंक प्राप्त करने वाले अभ्यर्थियो को पात्रता प्रमाण पत्र जारी किया जायेगा।
7. नियुक्ति के लिए यूपीटीईटी अर्हक प्रमाण-पत्र की वैधता सभी श्रेणियों के लिए इसके परिणाम की घोषणा की तिथि से पाॅच वर्ष की अवधि तक होगी।
UPTET Success Tips


1. अपनी अच्छे विषय को जाने :- किसी भी परीक्षा के तैयारी से पहले हमें अपने विषय जो अच्छे से आते हो या जिनमें आप कमजोर है को जान ले फिर उसी अनुसार तैयारी करे। कमजोर विषय को ज्यादा समय दे।

2. पिछले वर्ष के यू.पी.टी.ई.टी के प्रश्न पत्र लगा ले :- पिछले वर्ष के प्रश्नपत्र लगाने से आपको प्रश्नो की प्रकृति के बारे में पता लग जायेगा। यह तैयारी का महत्वपूर्ण अंग है।

3. अपने प्रदर्शन का निरीक्षण - अपने प्रदर्शन का निरीक्षण करेे। इस निरीक्षण से आप विषय में कितने अच्छे हुए और कितनी अधिक मेहनत करना है इसका पता लग जायेगा। इसके अनुसार आप आगे की तैयारी करे।

4. समय प्रबन्धन :- किसी भी परीक्षा के लिए समय प्रबन्धन आवश्यक है, आप अपने अच्छे विषय तथा कमजोर विषय के अनुसार समय प्रबन्धन करेें। समय का पूरा प्रयोग करे, समय बहुमूल्य है।

5. चतुराई पूर्वक परिश्रम करें कठिन परिश्रम न करे(Do smart work, not Hard work) :- समय कम होने की वजह से आप कठिन परिश्रम करने के बजाय Smart Work करे कम समय में अधिक से अधिक ग्रहण करें ब सीखे। समय का पूरा प्रयोग करे, समय बहुमूल्य है।

6. शुद्धता (Accuracy ) और प्रयास (Attempt) :- यू.पी.टी.ई.टी में नकारात्मक मूल्यांकन नही हैं फिर भी आपके प्रयासो (Attempts Questions)  की शुद्धता आपके अंको को बढ़ाने में सहायक होगी। जैसा कि हम जानते है कि यह प्रतियोगिता (Competition)  है और प्रतियोगिता में शुद्धता का महत्व बहुत अधिक है।

7. वैकल्पिक भाषा का चयन :- वैकल्पिक भाषा का चयन समझदारी से करें। वहीं विषय का चयन करें जिसमें आपका आत्मविश्वास अधिक हो कि आप अधिकतम अंक प्राप्त कर सकेंगे। यह आपको अंको को बढ़ाने में सहायक होगा।

For mail and Free message notification Please fill the form:- Click Here

6 सप्ताह की तैयारी योजना 6 सप्ताह की तैयारी योजना Reviewed by Kunwar Siddhartha on 16:02:00 Rating: 5

No comments:

Theme images by chuwy. Powered by Blogger.