25-हिंदी अति लघु-उत्तरीय प्रश्नोत्तर भाग-१




1: भाषा किसका माध्यम है?
-संप्रेषण का, विचार विनिमय का, अपने परिवेश एवं अनुभव को समझने का

2: यदि बालक किसी वर्ण का उच्चारण करने में कठिनाई का अनुभव करता है तो आप उससे क्या कराएँगे? 
-उस वर्ण से जुड़े शब्दों का बार-बार उच्चारण कर आएंगे


3: प्राथमिक स्तर पर भाषा शिक्षण का मूल उद्देश्यक्या होता ? 
-बच्चों की लेखनी पर जोर देना ताकि वह अक्षरों की बनावट के प्रति सजग रहे

4: भाषा के प्रति लगाव उत्पन्न करने का सर्वोत्तम तरीका कौन सा ? 
-कहानी पढ़ना

5: प्राथमिक, उच्च प्राथमिक एवं माध्यमिक स्तर पर लेखन क्षमता का आकलन किस आधार पर करना चाहिए? 
-प्राथमिक स्तर पर वर्तनी अशुद्धता 
-उच्च प्राथमिक स्तर पर वाक्य संरचना 
तथा 
-माध्यमिक व उच्च शैक्षिक स्तर पर विचारों की मौलिकता

6: पाठ्यपुस्तक के पठन संबंधी निर्देश हैं स्पष्ट करें? 
-पाठ प्रारंभ करने से पहले पाठ के मूल भाव पर बातचीत करना, 
-पाठ के रचनाकार का परिचय प्रारंभ में देना, 
-कठिन शब्दों का निवारण पाठ क्रिया के दौरान किया जाना 
तथा 
-पाठ से मिलने वाली सीख को अंत में बताना

7: लिखित भाषा का प्रयोग क्यों किया जाता है? 
-विचारों भावों तथा क्रियाकलापों की अभिव्यक्ति के तौर पर



8: बच्चे की भाषा समाज के साथ संपर्क का ही परिणाम है, यह विचार किसका था? 
-वाइगोत्सकी

9: यदि बालक पढ़ते समय बार बार अटकता है तथा वह अक्षरों को समझ पाने में असमर्थ है तो संभवत: यह किस बीमारी के लक्षण हो सकते हैं? 
-डिस्लेक्सिया

10: भाषा किस प्रकार का कौशल है? 
-भाषा एक अर्जित कौशल है जो अभ्यास के द्वारा अधिक अधिक विकसित की जा सकती है

11: समग्र भाषा पद्धति पर आधारित कक्षा बच्चों के किस पर बल देती है?
-भाषाई विकास की स्पष्ट समझ पर

12: शिक्षक द्वारा कक्षा में कहानी कथन का मूल उद्देश्य क्या होता है? 
-बच्चों में कल्पना शक्ति का विकास करना

13: व्याकरण शिक्षण की आगमन विधि का पहला चरण क्या है? 
-उदाहरण प्रस्तुत करना
14: अनुप्रास अलंकार को स्पष्ट करें? 
-जिस अलंकार में एक ही वर्ण की आवृत्ति एक से अधिक बार उसे अनुप्रास अलंकार कहते हैं



15: उच्च प्राथमिक स्तर पर हिंदी भाषा में लोकोक्तियां एवं मुहावरों के प्रयोग पर बल क्यों दिया जाता है? 
-हिंदी भाषा में विद्यार्थी की अभिव्यक्ति को परखने के लिए, इनसे विद्यार्थी की भाषा में मजबूती का पता चलता है

16: भाषाई कौशलों को हमेशा एक साथ क्यों सीखा जाना चाहिए? 
-क्योंकि भाषाई कौशल एक दूसरे से स्वतंत्र नहीं होते तथा यह एक दूसरे को प्रभावित करते हैं

17: एक शिक्षक के तौर पर बालक की भाषा के आकलन में आपका सार्वधिक ध्यान किस पर होना चाहिए? 
-बालक की भाषा प्रयोग की कला पर

18: प्रत्येक बालक बचपन से ही बहुभाषिक होता है उनका यह कौशल कैसे विकसित किया जा सकता है? 
-उपयुक्त वातावरण एवं सटीक शिक्षण व्यवस्था के द्वारा

19: क्या बालक स्कूल आकर ही बोलना सीखता है?
-नहीं बालक स्कूल आने से पूर्व ही बोलना, लैंगिक विभेद, वस्तुओं को पहचानना सीख चुका होता है


20: भाषा शिक्षण में पाठ्य पुस्तकों के अतिरिक्त अन्य प्रभावशाली तरीके कौन से हैं?
-परिचर्चा करना, घटना वर्णन करना, कहानी कहना तथा संवाद अदायगी इत्यादि

21: अंतः वाक् की संकल्पना किससे संबंधित है? 
-वाइगोत्सकी


22: क्या लिखना बातचीत का उदाहरण है?
-हां

23: भाषा व्याकरण शिक्षण की आगमन विधि को स्पष्ट करें?
-आगमन विधि: विशिष्ट से सामान्य की ओर, उदाहरण से निष्कर्ष की ओर, आधार वाक्य से नियम की ओर तथा तर्क वाक्य से सिद्धांत की ओर चलती है

24: उपसर्ग किसे कहते हैं?
-उपसर्ग उस शब्दांश या अव्यय को कहते हैं जो किस शब्द के पहले आकर उसका विशेष अर्थ प्रकट करते है उदाहरण: नापसंद

25: बालक को भाषा ज्ञान देने वाले प्रथम शिक्षक होते हैं? 
-उसके माता-पिता


यदि आप किसी topic पर one-liner, Quiz चाहते हैं या आपके पास कोई सुझाव है कृपया हमें नीचे comment box में लिखें 
चर्चा व प्रश्नोत्तर हेतु हमें  whatsaap पर सम्पर्क करें: 9453513579, 8299717989
&
plz Like & Share our efforts with ur friends👈
because sharing is caring🤓
25-हिंदी अति लघु-उत्तरीय प्रश्नोत्तर भाग-१ 25-हिंदी अति लघु-उत्तरीय प्रश्नोत्तर भाग-१ Reviewed by ravi kumar on 16:52:00 Rating: 5

No comments:

Theme images by chuwy. Powered by Blogger.